August 18, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

पाकिस्तानी पत्रकार के खुलासे से पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी फिर सवालों के घेरे में, ISI के जिक्र से मची सनसनी

एक पाकिस्तानी यूट्यूब चैनल पर वहीं के पत्रकार नुसरविस्फोटक है यह खुलासा
चर्चित मुद्दों पर मुखर रहने वाली सोनम महाजन ने पाकिस्तानी पत्रकार के खुलासे को विस्फोटक बताया है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘पाकिस्तानी स्तंभकार नुसरत मिर्जा कांग्रेस के शासनकाल में कई बार भारत आए और अब कैमरे पर खुलेआम दावा कर रहे हैं कि वो भारत में मिली जानकारियों को आईएसआई को पास किया करते थे। उनका दावा है कि हामिद अंसारी और मिल्ली गजट के जफरूल इस्लाम खान ने उन्हें न्योता दिया था।’हामिद पर एनके सूद ने लगाया था गंभीर आरोप
इस मौके पर भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ के पूर्व अधिकारी एनके सूद के हामिद अंसारी के खिलाफ लगाए आरोपों को याद किया जा रहा है। सूद के तीन साल पुराने उस ट्वीट को अंसारी की संदेहास्पद शख्सियत के सबूत के तौर पर पेश किया जा रहा है। गरुड़ प्रकाशन के संस्थापक संक्रान्त सानु ने सूद के ट्वीट को रीट्वीट किया है। उन्होंने लिखा, ‘कांग्रेस ने हामिद अंसारी को उप-राष्ट्रपति बनाया, कोई हैरत की बात नहीं। लेकिन बीजेपी ने यह सब नजरअंदाज कर दिया, यह बहुत दुखद है।’त मिर्जा के खुलासे से भारत में सनसनी मच गई है। यूट्यूबर शकील चौधरी के साथ बातचीत में मिर्जा ने कहा कि उन्हें तत्कालीन उप-राष्ट्रपति हामिद अंसारी और एक अंग्रेजी अखबार मिली गजट के संस्थापक जफरूल इस्लाम खान के न्योते पर भारत आए थे। उन्हें भारत में कई संवेदनशील खुफिया सूचनाएं हासिल हुईं जिन्हें उन्होंने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई को पास किया। मिर्जा के इस दावे के बाद सोशल मीडिया पर हंगामा बरप गया है। माइक्रोब्लॉगिंग प्लैटफॉर्म ट्विटर पर लोग हामिद अंसारी और जफरूल इस्लाम खान के साथ-साथ कांग्रेस पार्टी को भी कोस रहे हैं जो उस वक्त केंद्र की सत्ता में थी। बात 2011 की है। उस वक्त मनमोहन सिंह देश के प्रधानमंत्री थे।