December 1, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

धूनी में डालें ये 6 खास चीजें, घर में बनी रहेगी बरकत

हर धर्म में धूनी (धूप) देने की परंपरा कई सालों से चली आ रही है. घरों में धूप देने से हर तरह की नकारात्मकता, सकारात्मकता में परिवर्तित हो जाती है. हिंदू धर्म में तो हर पूजा में अगरबत्ती या धूप देने का महत्व है. पौराणिक धर्मग्रंथों के अनुसार धूनी में डाली गई अलग-अलग वस्तुएं हमें विभन्न तरह के फल देती है.आइए बताते हैं आपको ऐसी चीजें जिसे धूनी में डालने से आपके जीवन में क्या असर होगा और क्या लाभ मिलेंगे.

नीम के पत्ते

नीम जीवाणुनाशक है. मौसम पलटते ही हर घर में बीमारियां फैलने लगती है. घर में सप्ताह में एक या दो बार नीम के पत्ते की धूनी जलाएं। इससे जहां एक ओर सभी तरह के जीवाणु नष्ट हो जाएंगे। वहीं वास्तुदोष भी समाप्त हो जाएगा।

चंदन

घर में अनावश्यक धन खर्च हो रहा है.कड़ी मेहनत के बाद भी तरक्की नहीं हो पा रही तो धूनी में चंदन, इलायची और कपूर डालें. इससे सुख-समृद्धि आती है.

गुग्गल

अमूमन घरों में गुगल की धूनी दी जाती है. ये बहुत गुणकार मानी गई है. इससे गृहक्लेश नहीं होता और घर में तनाव मुक्त माहौल पैदा होता है. इससे नजर दोष भी दूर होता है.घर में कंडे जलाकर गुग्गल की धूनी देना चाहिए. इसकी धूनी से आकस्मिक दुर्घटनाओं से बचाव भी होता है.

कपूर और लौंग

पैसा आते ही पानी की तरह बह जाता है और घर में बरकत नहीं हो रही है तो धूनी में कपूर और लौंग डालें. इससे वास्तु दोष दूर होता है. लक्ष्मी सदा आपके पास रहेगी. धन के मार्ग में आ रही अड़चने खत्म हो जाएंगी.

पीली सरसों

पीली सरसों में गाय का घी और गुगुल डालकर उपले में रखकर धूनी दी जानी चाहिए. घर में क्लेश हो रहा हो तो ये उससे बचाव का बढ़िया उपाय है.इससे परिवार में आपसी तालमेल बना रहता है.

केसर

नकारात्मक शक्तियों को दूर करने, बुरी बला को टालने के लिए घर में गायत्री केसर में गुग्गल मिलाकर धूनी दें.माह में 21 दिन तक ये प्रक्रिया करें.