September 23, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

UN ने पाक को बताया सूखाग्रस्त देश, सिंध में पानी के लिए मचा हाहाकार; सरकार पर भड़के लोग

पाकिस्तान दुनिया के उन 23 देशों में से एक है जो पिछले दो वर्ष से अधिक समय से सूखे का सामना कर रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। संयुक्त राष्ट्र के 17 जून को ‘मरुस्थलीकरण और सूखा दिवस’ के मद्देनजर पेश की गई एक रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछली सदी में एशिया में सबसे अधिक लोग सूखे से प्रभावित हुए। पाकिस्तान के अलावा संयुक्त राष्ट्र की सूची में शामिल अन्य 22 देशों में अफगानिस्तान, अंगोला, ब्राजील, बुर्किना फासो, चिली, इथियोपिया, ईरान, इराक, कजाखस्तान, केन्या, लेसोथो, माली, मॉरितानिया, मेडागास्कर, मलावी, मोजाम्बिक, नाइजर, सोमालिया, दक्षिण सूडान, सीरिया, अमेरिका और जाम्बिया शामिल हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 2050 तक भारत और पाकिस्तान के आकार के जितने अतिरिक्त 40 लाख वर्ग किलोमीटर प्राकृतिक क्षेत्रों को सूखे से निपटने के उपायों की आवश्यकता होगी। इसमें आगाह किया गया है कि धरती की 40 फीसदी जमीन का क्षरण हो गया है, जिससे मनुष्यों की आधी आबादी पर असर पड़ा है। एक तरफ संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट में पाकिस्तान को सूखाग्रस्त देश माना गया है तो वहीं उसके सिंध प्रांत में लोग पीने और जरूरी कामों के लिए पानी की कमी से जूझ रहे हैं। डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक इसके चलते आपदा जैसे हालात पैदा हो गए हैं।

इस संकट की एक वजह पंजाब की ओर से नदियों का पानी छोड़ने में कमी होना भी है। इसके खिलाफ सिंध चेंबर ऑफ एग्रिकल्चर ने प्रदर्शन भी किया है। रविवार को कराची स्थित प्रेस कल्ब के बाहर सिंध के एक्टिविस्ट्स ने प्रदर्शन किया। सिंधु युनाइटेड पार्टी के नेता रोशन अली बुरिरो ने कहा कि अब पाकिस्तान पीपल्स पार्टी देश की सत्ता में साझीदार है, इसके बाद बाद भी सिंध को उसके हिस्से का पानी नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने कहा कि सिंधु नदी के पानी की लूंट चश्मा-झेलम लिंक नहर और थाल नहर के जरिए पंजाब की ओर से जा रही है। इसके बाद भी पीपीपी ने चुप्पी साध ली है।

गौरतलब है कि पाकिस्तान में अन्य कई पड़ोसी देशों के मुकाबले भीषण गर्मी पड़ रही है। शनिवार को तो सिंध के जैकबाबाद में तापमान 51 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। पूरे पंजाब में इन दिनों भीषण लू चल रही है। इसके चलते लोग बीमार हो रहे हैं। उन्हें डायरिया जैसी समस्याएं झेलनी पड़ रही हैं। इसके अलावा किडनी की समस्याएं भी सामने आ रही हैं। खासतौर पर पाकिस्तान के सिंध और पंजाब में भीषण गर्मी पड़ रही है। गौरतलब है कि भारत में भी राजधानी दिल्ली, यूपी, हरियाणा, पंजाब समेत उत्तर भारत के कई राज्यों में भीषण गर्मी पड़ रही है।