July 3, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

सस्ती हो गई कोरोना की वैक्सीन, जानें अब कितनी है कोवैक्सीन और कोविशील्ड की कीमत

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 10 अप्रैल से निजी टीकाकरण केंद्रों में 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों के लिए कोविड-19 टीके की एहतियाती खुराक उपलब्ध कराए जाने का हाल ही में एलान किया गया है. मंत्रालय ने कहा 18 वर्ष से अधिक आयु के ऐसे सभी लोग, जिन्हें वैक्सीन की दूसरी खुराक लगवाये नौ महीने हो गये हैं वे एहतियाती खुराक के लिए पात्र होंगे. इस बीच सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक की तरफ से वैक्सीन की कीमत घटाने को लेकर बड़े एलान किए गए हैं.

सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने ट्वीट करते हुए कहा है कि हमें यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि केंद्र सरकार के साथ चर्चा के बाद SII ने निजी अस्पतालों के लिए COVISHIELD वैक्सीन की कीमत 600 रुपये से घटाकर 225 रुपये प्रति डोज करने का फैसला किया है. हम सभी 18+ के लिए प्रिकॉशन डोज शुरू करने के केंद्र के इस फैसले की एक बार फिर सराहना करते हैं.

इसके साथ ही भारत बायोटेक की संयुक्त प्रबंध निदेशक सुचित्रा एला का कहना है कि हमने निजी अस्पतालों के लिए कोवैक्सीन की कीमत 1200 रुपये से घटाकर 225 रुपये करने का फैसला किया है. वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया, ‘‘यह निर्णय किया गया है कि कोविड-19 की एहतियाती खुराक निजी टीकाकरण केंद्रों में 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए उपलब्ध कराई जाएगी. यह सुविधा सभी निजी टीकाकरण केंद्रों में होगी.’’

इस घोषणा के बाद, टीका निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने कहा था कि इसके कोविशील्ड टीके की एहतियाती खुराक की कीमत पात्र लोगों के लिए 600 रुपये प्रति डोज होगी, हालांकि एक बार फिर सीमर इंस्टीट्यूट ने कीमत और कम करने का फैसला किया है. वर्तमान में किसी व्यक्ति को कोविड के अलग-अलग टीकों की खुराक देने की देश में अनुमति नहीं है, जिसका मतलब है कि प्रिकॉशन डोज उसी वैक्सीन की होगी जिसकी पहली और दूसरी खुराक दी गई थी.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने ट्विटर पर कहा, ‘‘ कोरोना के ख़िलाफ लड़ाई अब और मज़बूत होगी. अब 18 वर्ष की आयु से अधिक के नागरिक 10 अप्रैल से प्राइवेट सेंटर (निजी टीकाकरण केंद्र) में एहतियाती खुराक लगवा सकेंगे. जिन नागरिकों को टीके की दूसरी खुराक लगे 9 महीने हो चुके है वे इसके लिए पात्र होंगे.’’ एसआईआई के सीईओ अदार पूनावाला ने भी 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को निजी टीकाकरण केंद्रों में एहतियाती खुराक लगाये जाने की अनुमति देने के सरकार के कदम का स्वागत किया.