February 28, 2024

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

सेंट्रल ट्रेड यूनियनों ने 28 और 29 मार्च को बुलाया भारत बंद

सेंट्रल ट्रेड यूनियंस ने सोमवार और मंगलवार (28-29 मार्च) को भारत बंद बुलाया है। इस बंद का बैंकिंग और ट्रांसपोर्ट सेवाओं पर व्‍यापक असर पड़ने की संभावना है। ऑल इंडिया बैंक कर्मचारी एसोसिएशन ने भी भारत बंद को समर्थन दिया है। यानी सरकारी बैंक 28 और 29 मार्च को बंद रहेंगे। स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया ने पहले ही ग्राहकों को जानकारी दे दी थी इन दो दिन सेवाएं प्रभावित रहेंगी। इसके अलावा रोडवेज, बिजली, कोयला, डिफेंस, ऑयल, टेलिकॉम, पोस्‍टल के कर्मचारी संगठन भी बंद में सहयोग करेंगे। लेफ्ट दलों, कांग्रेस समेत कई विपक्षी पार्टियां भी बंद के समर्थन में हैं। केरल और पश्चिम बंगाल में भारत बंद का खासा असर देखने को मिल रहा है।
बैंक यूनियन सरकारी बैंकों के प्राइवेटाइजेशन को लेकर लगातार प्रदर्शन कर रही हैं। पिछले हफ्ते एक बैठक में ट्रेड यूनियनों ने भी बंद को समर्थन दे दिया। यूनियन की प्रमुख मांगों में लेबर कोड को समाप्त करना, हर तरह का निजीकरण रोकना, मनरेगा मजदूरी के लिए आवंटन बढ़ाना, कॉन्ट्रैक्ट लेबर को परमानेंट करना शामिल है। सरकारी बैंक बंद होने का असर पूरे देश पर रहेगा। लेफ्ट दलों के प्रभाव वाले इलाकों में बंद का व्‍यापक असर दिख सकता है।
भारत बंद में क्‍या-क्‍या बंद रहेगा?

बैंक बंद रहेंगे। हालांकि ATM खुले रहेंगे। ट्रांसपोर्ट, बिजली, कोयला, रेलवे, इंश्योरेंस, डिफेंस, टेलिकॉम, तेल, पोस्टल जैसे विभागों में भी कामकाज प्रभावित हो सकता है। लोकल लेवल पर भी ऑटो-टैक्‍सी मिलने में परेशानी आ सकती है।
भारत बंद में क्‍या-क्‍या खुला रहेगा?

ट्रेनें चलती रहेंगी। लोकल ट्रेनें व मेट्रो सेवाएं हड़ताल से अछूती रहेंगी। हां, प्रदर्शनकारियों के ट्रैक जाम करने से कुछ जगह रेल सेवाओं पर असर जरूर पड़ सकता है। आपातकालीन सेवाओं को भी बंद से छूट दी गई है।