July 1, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

पिछले दो साल से सेना में क्यों नहीं हो रही है जवानों की भर्ती?

सरकार ने सोमवार को संसद में कहा कि कोविड महामारी के कारण 2020 और 2021 में भारतीय थल सेना में भर्ती प्रक्रिया स्थगित हुई और इस पर कोई रोक नहीं लगाई गई है. रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान पूरक सवालों के जवाब में यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि कोविड महामारी का प्रकोप कम हुआ है, लेकिन यह अभी समाप्त नहीं हुआ है.

कोरोवा वायरस महामारी के चलते पिछले दो सालों में थल सेना में भर्ती रैलियों का आयोजन नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि ऐसी भर्ती रैलियों में बड़ी संख्या में उम्मीदवार जुटते हैं, इसलिए ऐसी भर्ती रैलियों को स्थगित कर दिया गया, ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके. उन्होंने कहा कि इस दौरान वायु सेना और नौसेना में ऑनलाइन भर्ती प्रक्रिया जारी रही और कर्मियों की भर्ती की गई है.

रक्षा बलों मे भर्ती के संबंध में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एक प्रश्न के लिखित जवाब में कहा कि कोविड महामारी के कारण थल सेना में भर्ती प्रक्रिया निलंबित कर दी गई. उन्होंने कहा कि 2018-19 और 2019-20 में भारतीय थल सेना में क्रमश: 53,431 और 80,572 भर्तियां की गईं.

सिंह ने बताया कि 2020-21 और 2021-22 में भारतीय नौसेना में क्रमश: 2,772 और 5,547 कर्मियों की भर्ती की गई. इसी प्रकार वायुसेना में 2020-21 और 2021-22 में क्रमश: 8,423 और 4,609 कर्मियों की भर्ती की गई.