August 19, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

Ranji Trophy Final: दूसरी पारी में ढेर हुए मुंबई के शेर, इतिहास रचने को तैयार मध्य प्रदेश; 108 रन का मिला लक्ष्य

बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले जा रहे 2022 रणजी ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में मध्य प्रदेश की टीम इतिहास रचने की दहलीज पर है. दरअसल, पहली पारी में 162 रनों से पिछड़ने के बाद दूसरी पारी में मुंबई की टीम 269 रन ही बना सकी. ऐसे में मध्य प्रदेश को खिताब जीतने के लिए सिर्फ 108 रन बनाने हैं.

मुंबई के ऑलआउट होते ही लंच की घोषणा कर दी गई. दूसरी पारी में एमपी के लिए कुमार कार्तिकेय ने सबसे ज्यादा चार विकेट चटकाए. मध्य प्रदेश को पहली बार रणजी ट्रॉफी का खिताब जीतने के लिए सिर्फ 108 रन बनाने हैं.

पांचवें दिन नहीं चले मुंबई के शेर

पांचवें दिन पहले सेशन में ही मुंबई ने अपने आठ विकेट गंवा दिए. चौथे दिन सॉलिड बल्लेबाजी कर रहे अरमान जाफर अंतिम दिन अपने स्कोर में ज्यादा इजाफा नहीं कर सके. उन्होंने 40 गेंदों में 37 रन बनाए. इसके बाद शानदार फॉर्म में चल रहे सरफराज सॉलिड दिखे.

सरफराज ने तीन चौकों और एक छ्क्के की मदद से 45 रनों की पारी खेली. हालांकि, उनके आउट होते ही मुंबई की पारी ताश के पत्तों की तरह बिखर गई. इस बीच यशस्वी जायसवाल 01, शम्स मुलानी 17, तनुष कोटियन 11 और तुषार देशपांडे 07 रन बनाकर आउट हुए. हालांकि, सुवेद पार्कर ने 51 रन बनाए.

दूसरी पारी में मध्य प्रदेश के लिए कुमार कार्तिकेय ने 98 रन देकर चार विकेट चटकाए. वहीं गौरव यादव और पार्थ साहनी को दो-दो विकेट मिले. एमपी को अब इतिहास रचने के लिए 108 रन बनाने हैं.