November 22, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

CUET Exam: सीयूईटी रजिस्ट्रेशन के बाद ढ़ाई लाख छात्र नहीं कर पाए फीस जमा

 देश की सेंट्रल यूनिवर्सिटीज में अंडर ग्रेजुएट प्रोग्राम में एडमिशन के लिए कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट यानी सीयूईटी 2022 (CUET 2022) ने पहले साल ही रिकार्ड बनाते हुए देश दूसरी सबसे बड़ी परीक्षा बन गई है. पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक यूजीसी अध्यक्ष (UGC Chairman) ने इस मौके पर बातचीत करते हुए इस बार सीयूईटी परीक्षा (CUET 2022) के लिए आए कुल आवेदनों का डेटा भी शेयर किया. उन्होंने बताया कि इस बार सीयूईटी यूजी (CUET UG 2022) में लगभग 11.51 लाख आवेदन आए हैं. जिसमें लगभग ढ़ाई लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन तो किया है लेकिन अंतिम समय तक फीस जमा नहींं कर पाए हैं. ऐसे में उन सभी छात्रों को फीस जमा करने के लिए एक और मौका दिया जा सकता है. 

बड़ी संख्या में छात्र  फीस जमा न करने पाने को लेकर शिक्षा मंत्रायल से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक इससे जुड़े तकनीकी पहलु पर जांच की जा रही है. इसके बाद ही अंतिम समय बढ़ाने का फैसला लिया जाएगा. वहीं यूजीसी के अनुसार पहले ही छात्रों को रजिस्ट्रेशन व फीस जमा करने के लिए काफी समय दिया जा चुका है ऐसे में और समय दिया जाएगा तो पूरी प्रक्रिया में देरी हो सकती है. लेकिन छात्रों के हित को देखते हुए एक और मौका देने के लिए विचार किया जा रहा है. 
जानें कितने छात्रों ने किया आवेदन 
नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) के मुताबिक, सीयूईटी में वैसे तो कुल 11.51 लाख छात्रों ने आवेदन किया है, लेकिन इनमें करीब नौ लाख छात्रों की ही फीस जमा हो पाई है.  इसके साथ ही इन करीब नौ लाख आवेदनों को वैध माना गया है. इस परीक्षा में इस बार दूर-दराज और ग्रामीण इलाकों के छात्रों ने भी आवेदन किया है. यही नहींं लगभग हर राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों से सीयूईटी के लिए आवेदन आए हैं. यूजीसी को उम्मीद है कि अगले साल तक कई और सेंट्रल और स्टेट यूनिवर्सिटीज भी इस परीक्षा के स्कोर को मान्यता दे देंगी.

जानें किस यूनिवर्सिटी के लिए आए है सबसे ज्यादा फॉर्म 
इस बार सीयूईटी परीक्षा के माध्यम से जिन छात्रों ने आवेदन किया है, उनमें से सबसे अधिक छात्रों ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के लिए फॉर्म भरा है. इसके बाद बीएचयू, इलाहाबाद यूनिवर्सिटी जैसी सेंट्रल यूनिवर्सिटीज को कैंडिडेट्स ने प्राथमिकता दी है.