December 3, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

कोरोना: WHO ने कहा- XE अब तक का सबसे अधिक तेजी से फैलने वाला स्ट्रेन

कोरोना महामारी की धीमी पड़ रही रफ्तार के बीच एक नए वेरिएंट ने तहलका मचा दिया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने बताया कि कोरोना के नए वेरिएंट का नाम XE है। प्रारंभिक अध्ययनों से संकेत मिला है कि XE वेरिएंट के संक्रमण की रफ्तार BA.2 वेरिएंट की तुलना में करीब 10 फीसदी ज्यादा है। डब्लूएचओ के अनुसार, अब तक कोविड के तीन हाइब्रिड या रिकॉम्बिनेंट स्ट्रेन का पता चला है, जिसमें से पहला- XD, दूसरा- XF और तीसरा- XE। इनमें से पहले और दूसरे वेरिएंट डेल्टा और ओमीक्रोन के कॉम्बिनेशन से पैदा हुए हैं, जबकि तीसरा ओमीक्रोन सबवेरिएंट का हाइब्रिड स्ट्रेन है।
ब्रिटेन की ब्रिटिश हेल्थ सिक्योरिटी एजेंसी के हाल के एक अध्ययन से पता चला है कि वर्तमान में 3 हाइब्रिड COVID वेरिएंट चल रहे हैं। इसमें डेल्टा और BA.1 के कॉम्बिनेशन से पैदा हुए दो अलग-अलग वेरिएंट XD और XF हैं, जबकि तीसरा XE है। इनमें से XD फ्रेंच डेल्टा वेरिएंट X BA.1 वंश का नया सदस्य है। इसमें इसमें BA.1 का स्पाइक प्रोटीन और डेल्टा का जीनोम होता है। वर्तमान में इसमें 10 से ज्यादा सिक्वेंस शामिल हैं।वहीं, XF ब्रिटिश डेल्टा x BA.1 वंश से संबंधित हैं। इसमें BA.1 का स्पाइक और स्ट्रक्चरल प्रोटीन होते हैं लेकिन डेल्टा के जीनोम का 5 वां हिस्सा ही होता है। XE वेरिएंट भी ब्रिटिश डेल्टा BA.1 x BA.2 वंश से संबंधित है। इसमें BA.2 से स्पाइक और स्ट्रक्चरल प्रोटीन होते हैं लेकिन इसमें भी BA.1 के जीनोम का 5वां हिस्सा ही होता है। इसमें वर्तमान में सैकड़ो सिक्वेंसेज मौजूद हैं।विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना के XE वेरिएंट को लेकर चेतावनी दी है। डब्लूएचओ ने कहा कि XE वेरिएंट के बारे में पहली बार यूनाइटेड किंगडम में 1 9 जनवरी को पता चला था। अभी तक इसके 600 सिक्वेंसेज की रिपोर्ट आई है और पुष्टि भी हुई है। शुरुआती अध्ययनों के अनुसार, XE वेरिएंट BA.2 की तुलना में 10 फीसदी ज्यादा संक्रामक है। हालांकि, इस वेरिएंट को लेकर हमें और ज्यादा अध्ययन करने की आवश्यक्ता है।