August 18, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

महंगाई की एक और मार, बढ़ सकती है इलेक्ट्रिसिटी बिल

देश में लोगों को लगातार महंगाई के झटके लग रहे हैं और अब इस कड़ी में बिजली बिल का नाम भी जुड़ सकता है. केंद्रीय ऊर्जा मंत्री की ओर से इस बात की जानकारी दी जा चुकी है. अब जनता को तैयार रहना चाहिए कि उनके बिजली बिल बढ़े हुए आ सकते हैं. हालांकि प्रति यूनिट बिजली बिल में 1 रुपये से भी कम इजाफा होने की बात केंद्रीय मंत्री की ओर से कही जा रही है.

बिजली शुल्क में 60-70 पैसे प्रति यूनिट का इजाफा होगा- केंद्रीय मंत्री आर के सिंह
केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने कहा कि ब्लैकआउट से बचने के लिए पावर प्लांट्स से कहा गया है कि वे 10 फीसदी इंपोर्टेड कोयले का मिश्रण करें. इससे बिजली शुल्क में 60-70 पैसे प्रति यूनिट का इजाफा होगा. आर के सिंह ने कहा कि बिजली की कमी से बचने के लिए ऐसा करना होगा क्योंकि घरेलू कोयले की सप्लाई बिजली कंपनियों की मांग को पूरा नहीं कर पा रही है.बिजली की खपत में हुई 25 फीसदी की बढ़ोतरी
बिजली मंत्री ने कहा कि ऊर्जा (Power) की खपत में लगभग 25 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है और पिछले एक साल में अधिकतम मांग में भी 15 फीसदी का इजाफा हुआ है. लिहाजा उन्होंने कहा, “हमने पावर प्लांट्स को ब्लैकआउट से बचने के लिए 10 फीसदी इंपोर्टेड कोयले को मिश्रित करने के लिए कहा है क्योंकि घरेलू कोयला उत्पादन पर्याप्त नहीं है.”

आर के सिंह ने कहा, “आयातित कोयले की कीमत 17,000-18,000 रुपये प्रति टन है जबकि घरेलू कोयले की कीमत करीब 2,000 रुपये प्रति टन है. इसके कारण, बिजली शुल्क में लगभग 60-70 पैसे प्रति यूनिट की वृद्धि होगी.”