July 3, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

शरीर में आयरन की कमी पैदा कर सकता है हल्दी का अधिक सेवन

चेहरे की खूबसूरती बढ़ानी हो या फिर स्वाद और सेहत की हो बात, भारतीय परिवारों में हल्दी का इस्तेमाल जरूर किया जाता है। इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए भी कई लोग रोजाना रात को हल्दी वाला दूध पीकर सोते हैं। पर क्या आप जानते हैं, अपने औषधीय और हीलिंग गुणों के लिए पहचाने जाने वाली हल्दी का सेवन अगर जरूरत से ज्यादा किया जाए तो ये पायदे की जगह नुकसान तक पहुंचा सकती है। आइए जानते हैं जरूरत से ज्यादा हल्दी खाने से शरीर को होते हैं कौन से बड़े साइड इफेक्ट्स। हल्दी का अधिक सेवन करने के नुकसान-
पेट से जुड़ी समस्याएं-
हल्दी की तासीर गर्म होने की वजह से इसका अधिक सेवन करने से व्यक्ति के पेट में जलन पैदा हो सकती है। इतना ही नहीं व्यक्ति को सूजन और पेट में ऐंठन की समस्या भी परेशान कर सकती है।

पथरी-
हल्दी का अधिक सेवन करने से व्यक्ति को किडनी में पथरी की समस्या हो सकती है। हल्दी में ऑक्सालेट की प्रचूर मात्रा होती है। अधिक मात्रा में हल्दी का सेवन करने से पित्त पथरी के विकास का जोखिम बढ़ सकता है।

उल्टी और दस्त-
हल्दी के अधिक सेवन करने से पाचन संबंधित समस्याएं भी पैदा हो सकती हैं। जिसकी वजह से कई बार व्यक्ति को दस्त या उल्टी की समस्या भी होने लगती है। दरअसल, हल्दी में पाया जाने वाला सक्रिय यौगिक करक्यूमिन में गैस्ट्रोइन्टेस्टनल ट्रैक्ट को परेशान करने की प्रवृत्ति होती है, जिसकी अधिक मात्रा में सेवन से दस्त और उल्टी का कारण बनता है।

आयरन की कमी-
हल्दी का अधिक सेवन आयरन के अवशोषण को बाधित कर सकता है. इसलिए, आयरन की कमी वाले लोगों को सावधान रहना चाहिए कि वे अपने दैनिक भोजन में बहुत अधिक हल्दी न डालें। अगर आपके शरीर में आयरन की कमी है तो आप हल्दी का सेवन कम मात्रा में ही करें।

रोजाना कितना करें हल्दी का सेवन-
एक्सपर्ट बताते हैं कि रोजाना एक टी स्पून हल्दी का सेवन इसके लाभ उठाने के लिए काफी है। वहीं अगर आप इसका अधिक सेवन करते हैं तो इससे आपको पेट से संबंधित समस्याएं हो सकती हैं। साथ ही इसके कारण आपको चक्कर भी आ सकते हैं।