November 22, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

कोरोना: एक साथ करीब 13 हजार लोग बीमार, चौथी लहर में दिख रहे ये 6 गंभीर लक्षण

भारत में कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus pandemic) का प्रकोप एक बार फिर तेजी से बढ़ रहा है। देश में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 12,847 नए मामले मिले हैं। इसके साथ ही कोरोना से अब तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या 4,32,70,577 हो गई है। पिछले एक दिन में 14 लोगों की मौत हुई है, जिससे मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर 5,24,817 हो गई है। देश में अब एक्टिव मामले बढ़कर 63,063 है।चिंता की बात यह है कि दैनिक नए मामले सिर्फ एक हफ्ते के भीतर तीन हजार से 12 हजार जा पहुंचे हैं। इसे कोरोना वायरस की चौथी लहर (Covid 4th wave) के रूप में देखा जा रहा है। हालांकि स्वास्थ्य विशेषज्ञ कह रहे हैं कि चिंता की कोई बात नहीं है।

पिछले एक साल में कोरोना ने अपने कई रूप बदले हैं और इस तरह कोरोना के लक्षणों में भी बदलाव आया है। अब सिर्फ खांसी, बुखार या सांस की कमी कोरोना के लक्षण नहीं रहे गए हैं। कोरोना फेफड़ों के अलावा सभी अंगों को प्रभावित कर रहा है इसलिए इसके लक्षणों को पहचानना और ज्यादा मुश्किल हो रहा है क्योंकि इसके अधिकतर लक्षण कई आम बीमारियों से मिलते-जुलते हैं।ओमीक्रोन वेरिएंट (Omicron variant) कोरोना वायरस का अब तक का सबसे प्रमुख स्ट्रेन रहा है। डेल्टा वेरिएंट, जिसने पिछले साल अप्रैल-जून के दौरान घातक संक्रमण की लहर पैदा की थी, इस साल की शुरुआत में कम हो गई। इस हफ्ते देश में दो नए वेरिएंट के मामले सामने आए हैं, जिन्हें बीए.4 (BA.4) और बीए.5 (BA.5) के रूप में जाना जाता है। बताया जाता है कि इन ओमीक्रोन के इन सब-वेरिएंट्स में सबसे ज्यादा तेजी से फैलने की क्षमता है।एक रिपोर्ट के अनुसार, हाल ही में महाराष्ट्र में BA.4 और BA.5 के जो मामले मिले हैं, उन रोगियों में दस्त और बुखार से जुड़े लक्षण पाए गए हैं। इनके अलावा मौजूदा समय में जो कोरोना की चपेट में आ रहे हैं, उनमें बड़े लेवल पर दस्त की शिकायत देखी जा रही है। महामारी शुरू होने के बाद से डायरिया को कोरोना से जोड़ा गया है।कोरोना को श्वसन संबंधी समस्या माना जाता है, वास्तव में शरीर के हर अंग को प्रभावित करता है। डायरिया के अलावा मरीजों को पेट में ऐंठन या पेट में दर्द भी हो रहा है। यह दर्द अक्सर दस्त से जुड़ा होता है। डॉक्टरों ने यह भी कहा है कि पेट की समस्याओं के कारण लोगों को मतली और उल्टी का अनुभव हो रहा है।कोरोना वायरस की चौथी लहर के दौरान बुखार भी रोगियों में देखा जाने वाला एक अन्य सामान्य लक्षण है। लोगों में 105F तक का बुखार भी देखने को मिलता है। अगर आपको बुखार है, तो आपको सबसे पहले कोरोना की जांच करानी चाहिए।

डॉक्टरों ने लोगों से डायरिया और बुखार के लक्षण दिखने पर उन्हें तुरंत जांच कराने की सलाह दी है। इससे संक्रमण की शीघ्र पहचान करने में मदद मिलेगी और कोरोना के नियमों का पालन करने से दूसरों को संक्रमण से बचाने में मदद मिल सकती है। फिलहाल कोरोना से बचाव के लिए उससे जुड़े सभी नियमों का पालन करने में ही भलाई है।