July 3, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

मूसेवाला मर्डर केस, खालिस्तानी आतंकी रिंदा ने ISI के इशारे पर रची थी कत्ल की साजिश

सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है एक से बढ़कर एक चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं. मूसेवाला मर्डर केस में अब पाकिस्तान में बैठे खालिस्तानी आतंकी रविंदर सिंह उर्फ रिंदा का नाम सामने आया है. मूसेवाला मर्डर केस में पुणे पुलिस की गिरफ्त में आए महाकाल ने पूछताछ के बाद कई खुलासे हुए हैं. सूत्रों के मुताबिक लॉरेंस बिश्नोई गैंग का शूटर महाकाल ने बताया है कि लॉरेंस बिश्नोई हरविंदर सिंह उर्फ रिंदा के लिए काम करता है.

ISI के इशारे पर पंजाब में अस्थिरता की रिंदा साजिश रच रहा है. ISI के नापाक मंसूबे का जिम्मा आतंकी रिंदा ने लॉरेंस बिश्नोई को सौंपा है. मूसेवाला मर्डर केस में हुए इस खुलासे के बीच इंटरपोल ने खालिस्तान आतंकी रिंदा के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया है.

इसी वजह से अब भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को लगता है कि भारत मे सिख समुदाय को बांटने और अस्थिरता लाने के लिए पाकिस्तान की ISI के कहने पर ही रिंदा ने ये काम लॉरेन्स बिश्नोई को सौंपा होगा. संतोष जाधव को महाकाल से लॉरेंस बिश्नोई ने मिलवाया. महाकाल लॉरेंस बिश्नोई गैंग के लिए काम करता है. इस बीच रिंदा के खिलाफ इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया है. हालांकि ये रेड कॉर्नर नोटिस पंजाब में खुफिया एजेंसी के मुख्यालय पर हमले और ड्रोन साजिश के मामले में हुआ है.
इधर, भारत के 2 बड़े अपराधियों के खिलाफ इंटरपोल ने गुरुवार को देर शाम रेड कॉर्नर नोटिस जारी किए. इनमें गैंगस्टर से आतंकवादी बना हरविंदर सिंह संधू उर्फ रिंदा और सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड का मुख्य आरोपी गोल्डी बराड़ (Goldy Brar) शामिल है. केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के एक आला अधिकारी ने बताया कि एजेंसी ने इंटरपोल से इन दोनों आरोपियों की बाबत इंटरपोल मुख्यालय लियोन से रिक्वेस्ट की थी कि यह दोनों अपराधी भारत में अनेक बड़ी वारदातों में शामिल है. साथ ही इनमें से एक आतंकवादी गतिविधियों से भी जुड़ा हुआ है. लिहाजा दोनों के खिलाफ इंटरपोल का रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया जाए.

इंटरपोल मुख्यालय ने दोनों अपराधियों की बाबत अपनी छानबीन करने के बाद रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया. इस रेड कॉर्नर नोटिस जारी होने के बाद अब इंटरपोल के सभी सदस्य देशों की पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों को इन दोनों को गिरफ्तार करने के अधिकार मिल गए हैं. इनमें से हरविंदर सिंह संधू उर्फ रिंदा गैंगस्टर था लेकिन बाद में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के संपर्क में आने के बाद वह खालिस्तानी आतंकवाद से जुड़ गया. पिछले दिनों पंजाब में कोर्ट में हुआ बम धमाका हो या फिर हथियारों की बड़ी तस्करी का मामला या फिर पंजाब पुलिस के सीआईडी मुख्यालय पर हुए हमले का मामला इन सभी के तार कहीं ना कहीं जाकर रिंदा से जुड़ रहे थे. हरविंदर सिंह इन दिनों पाकिस्तान में बताया गया है जहां बैठकर वह अपने संपर्कों के जरिए भारत में आतंकवादी घटनाएं करवाने की साजिश रचता है.