December 2, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड: लॉरेंस विश्नोई की हिरासत और उत्तराखंड से गिरफ्तारी

पंजाबी गायक से कांग्रेस नेता बने शुभदीप सिंह सिद्धू उर्फ सिद्धू मूसे वाला की हत्या के बाद पंजाब में भूचाल आ गया है। कानून- व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं। इधर सात दिनों से खाली पड़ी पंजाब एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर की तैनाती की गई है। सरकार ने ई्श्वर सिंह को पंजाब का नया एडीजीपी बनाया है। ईश्वर सिंह 1993 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। वहीं इस मामले में पहली गिरफ्तारी हुई है। आरोपी मनप्रीत सिंह को मनसा कोर्ट में पेश कर 5 दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया है।
इधर दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने पिछले मामले में लॉरेंस बिश्नोई को 5 दिन की हिरासत में लिया है। वह फिलहाल तिहाड़ जेल में बंद है। स्पेशल सेल पंजाबी सिंगर सिद्धू मूस वाला की हत्या के सिलसिले में उससे पूछताछ करेगी। काला जत्थेदी और कला राणा से भी पूछताछ होगी।

30 राउंड फायरिंग, लगी 24 गोलियां
इधर मूसेवाला की ऑटोप्सी रिपोर्ट में शरीर में 24 गोलियों के घाव का खुलासा हुआ है। पुलिस के एक सूत्र ने बताया कि दो मिनट से भी कम समय में 30 राउंड फायरिंग की गई। सरकार की ओर से उनकी सुरक्षा में कटौती के 24 घंटे से भी कम समय में मूसेवाला की रविवार को दिन दहाड़े मनसा में उनके पैतृक गांव के पास गैंगस्टरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

एके 47 से की गई फायरिंग
मूसेवाला महिंद्रा थार एसयूवी में सवार थे, जब हमलावरों ने उन्हें और उनके दो दोस्तों पर गोलियां चलाईं। यह पता चला है कि अपराध में एके-47 राइफल का इस्तेमाल किया गया था क्योंकि इसके खोल अपराध स्थल से बरामद किए गए थे। कनाडा के एक गैंगस्टर गोल्डी बराड़ और लॉरेंस बिश्नोई ने हत्या की जिम्मेदारी ली है।

मूसेवाला की हत्या की साजिश का अहम सूत्रधार तिहाड़ में बंद गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई को माना जा रहा है। यह दावा न सिर्फ पंजाब पुलिस की तरफ से किया गया है, बल्कि स्पेशल सेल भी सक्रिय है। सोमवार को स्पेशल सेल तिहाड़ जेल पहुंची जहां हाई सिक्योरिटी सेल में बंद विश्नोई और उसके करीबियों से देर शाम तक पूछताछ की गई।