July 3, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

खुद को तरोताजा रखने के लिए कॉफी, सोडा, एनर्जी ड्रिंक्स पीते हैं, तो हो जाएँ सावधान!

गर्मी आ गई है। इस मौसम में हम अपनी प्यास बुझाने और तरोताजा रहने के लिए अलग-अलग प्रकार की ड्रिंक्स का सेवन करते हैं। हमें लगता है कि ये चीजें हमारे शरीर को हाइड्रेट कर रही हैं, लेकिन कभी-कभी इसका उलटा भी हो सकता है।

दरअसल, कुछ ड्रिंक्स में ऐसे इंग्रिडिएंट्स होते हैं, जिन्हें पीने से बार-बार पेशाब जाना पड़ सकता है। इन्हें जितनी अधिक मात्रा में पीते हैं, डिहाइड्रेशन की आशंका उतनी बढ़ जाती है।
डिहाइड्रेशन के लक्षण

मांसपेशियों में दर्द और थकान डिहाइड्रेशन के लक्षण हैं।
हरारत
रूखी त्वचा
सूखे होंठ
मांसपेशियों में दर्द
ज्यादा प्यास लगना
डार्क कलर की पेशाब
कम पेशाब आना
सिर दर्द
सिर चकराना
ड्रिंक्स जो बॉडी को कर सकती हैं डिहाइड्रेट..

कॉफी, चाय, सोडा

रिसर्च के अनुसार, ठंडी कार्बोनेटेड ड्रिंक्स पीने से प्यास और ज्यादा बढ़ जाती है।
रिसर्च के अनुसार, ठंडी कार्बोनेटेड ड्रिंक्स पीने से प्यास और ज्यादा बढ़ जाती है।
कॉफी, चाय और सोडे में कैफीन नाम का केमिकल होता है। ये केमिकल नर्वस सिस्टम को उत्तेजित करता है, जिसके कारण पेशाब का प्रोडक्शन ज्यादा हो सकता है। हालांकि इस बारे में रिसर्च मिक्स्ड है।

72 लोगों पर की गई एक रिसर्च में पाया गया कि कॉफी, चाय और सोडे से शॉर्ट टर्म में ज्यादा पेशाब नहीं जाना पड़ता है। लेकिन 10 लोगों पर हुई एक और रिसर्च में पता चला कि इन ड्रिंक्स को ज्यादा मात्रा में लेने से पेशाब का प्रोडक्शन ज्यादा होता है।

एक दूसरी स्टडी में पाया गया कि प्यास बुझाने के लिए ठंडी कार्बोनेटेड ड्रिंक्स पीने से प्यास और ज्यादा बढ़ जाती है।

शराब, एनर्जी ड्रिंक्स

शराब शरीर के फ्लुइड बैलेंस को बिगाड़ सकती हैं।
शराब शरीर के फ्लुइड बैलेंस को बिगाड़ सकती हैं।
बीयर, वाइन, लिकर जैसी शराब शरीर के फ्लुइड बैलेंस को बिगाड़ सकती हैं। शराब पेशाब को रेगुलेट करने वाले वासोप्रेसिन नाम के हॉरमोन का लेवल कम करती है।

11 पुरुषों पर हुई एक छोटी से स्टडी में पाया गया कि एक्सरसाइज के बाद 5% वाली अल्कोहल बीयर पीने से पेशाब का प्रोडक्शन बढ़ जाता है। यह स्पोर्ट्स ड्रिंक की तुलना में भी ज्यादा है।

एनर्जी ड्रिंक्स की बात करें तो ये भी डिहाइड्रेशन के खतरे को बढ़ा देती हैं। इनमें भी कैफीन कंटेंट होता है। साथ ही, कुछ एनर्जी ड्रिंक्स में टाउरीन नाम का कंपाउंड होता है, जो पेशाब की मात्रा बढ़ा सकता है। इसे एथलेटिक परफॉर्मेंस बेहतर करने के लिए इन ड्रिंक्स में मिलाया जाता है।

डिहाइड्रेशन से कैसे बचें?

गर्मियों में डिहाइड्रेशन से बचने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं।
गर्मियों में डिहाइड्रेशन से बचने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं।
चाय, कॉफी, एनर्जी ड्रिंक्स, सोडा और शराब की जगह पानी, नारियल पानी, जूस और सूप जैसे तरल पदार्थों का सेवन करें। इसके अलावा सिर्फ सोडा जैसी ड्रिंक्स न पीकर इसके साथ ज्यादा से ज्यादा पानी भी पीएं।

ज्यादातर गाइडलाइंस के मुताबिक, महिलाओं को 2.7 लीटर फ्लुइड और पुरुषों को 3.7 लीटर फ्लुइड का सेवन रोजाना करना चाहिए। इसमें खाने और पीने दोनों की ही चीजें शामिल हैं।