December 3, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

यूक्रेन: बूचा शहर में सड़कों पर लाशों का ढेर, सैटलाइट तस्वीरों में दिखा रूस का नरसंहार

रूस और यूक्रेन के बीच 40वें दिन भी जंग जारी है. इस बीच रूसी सैनिकों के नरसंहार के संकेत मिले हैं. बूचा शहर में सड़कों पर कई शव देखे गए हैं. बूचा इलाके में इतनी भारी संख्या में शवों के मिलने के बाद यूक्रेन की ओर से रूस पर बूचा में नरसंहार का आरोप लगाया गया है. वहीं चर्च के पास करीब 45 फुट लंबा कब्रगाह नजर आया है. एक निजी अमेरिकी कंपनी ने रविवार को कहा कि सैटेलाइट छवियों में यूक्रेन के एक चर्च के मैदान में खोदी गई 45 फुट लंबी खाई दिखाई देती है, जहां रूसी सेना के बूचा शहर से हटने के बाद इस हफ्ते एक सामूहिक कब्र मिली थी. शनिवार को बुचा का दौरा करने वाले रॉयटर्स के पत्रकारों ने राजधानी कीव से 37 किमी उत्तर-पश्चिम में शहर की सड़कों पर शव पड़े हुए देखे. एक चर्च में एक सामूहिक कब्र अभी भी खुली हुई थी.
यूक्रेन ने रविवार को रूसी सेना पर शहर में नरसंहार करने का आरोप लगाया है. यूक्रेन ने दावा किया है कि कीव के आसपास के क्षेत्रों पर फिर से यूक्रेनी सैनिकों ने कब्जा कर लिया है. मैक्सार टेक्नोलॉजीज, जो यूक्रेन की उपग्रह इमेजरी एकत्र और प्रकाशित करती है, ने कहा कि सेंट एंड्रयू और पायरवोज़्वनोहो ऑल सेंट्स के चर्च में सामूहिक कब्र के लिए खुदाई के पहले संकेत 10 मार्च को देखे गए थे. मैक्सर ने कहा है कि 31 मार्च को हालिया कवरेज चर्च के पास के क्षेत्र के दक्षिण-पश्चिमी इलाके में करीब 45 फुट लंबी खाई के साथ कब्र स्थल को दर्शाता है. हालांकि न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की ओर से तुरंत इन तस्वीरों को सत्यापित नहीं किया गया है. ये स्पष्ट नहीं था कि मैक्सर की ओर से प्रसारित तस्वीरें उसी चर्च की थीं.

उधर, रूस ने नरसंहार के आरोपों से इनकार किया है. यूक्रेन का आरोप है कि रूसी सैनिकों ने बूचा में एक तरह से नरसंहार की वारदात को अंजाम दिया है. राजधानी कीव से 37 किलोमीटर दूर स्थित शहर बूचा से ऐसी तस्वीरें जारी हुई हैं, जिनमें सड़कों पर जगह-जगह पड़े आम लोगों के क्षत-विक्षत शवों को देखा जा सकता है. विचलित करतीं इन तस्वीरों को लेकर उधर पश्चिमी देशों ने भी कड़ी आलोचना की है. जर्मनी समेत कई और देशों ने रूस पर प्रतिबंध और सख्त करने की चेतावनी दी है.