August 18, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

इमरान खान, MMS और ब्लैकमेलिंग! ‘वो’ वीडियो जिससे पाकिस्तानी राजनीति में मची है खलबली

इमरान खान ने प्रधानमंत्री पद पर रहते हुए इस महिला के यौन उत्पीड़न के वीडियो का गलत इस्तेमाल किया। उन्होंने इस वीडियो के जरिए तत्कालीन राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) के अध्यक्ष सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति जावेद इकबाल को ब्लैकमेल किया। जिसके एवज में एनएबी ने इमरान खान के विरोधियों को झूठे केस में फंसाया। कई विरोधियों को तो जेल में डाला गया। इस मामले का खुलासा होने के बाद इमरान खान अपनी ही पार्टी में घिर गए हैं। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के नेताओं ने ही इमरान खान से पार्टी अध्यक्ष पद छोड़ने की मांग की है।
महिला का आरोप लगाया है कि राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) के पूर्व अध्यक्ष सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति जावेद इकबाल ने उनका यौन उत्पीड़न किया। एनएबी पाकिस्तान का प्रमुख वित्तीय अपराध और भ्रष्टाचार प्रहरी है। हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि कथित घटना कब की है। इस घटना से संबंधित विवादास्पद वीडियो पहली बार 2019 में इंटरनेट पर सामने आए। महिला ने दावा किया कि प्रधानमंत्री के शिकायत पोर्टल पर शिकायत दर्ज करने के बाद उन्हें इमरान खान से उनके आधिकारिक आवास पर मिलने के लिए कहा गया था।
महिला ने आरोप लगाया कि तत्कालीन पीएम इमरान खान ने मुलाकात के बाद वादा किया कि सरकार न्याय की तलाश में उनकी मदद करेगी। लेकिन, उनके अधिकारियों ने जांच के नाम पर फोन को जब्त कर लिया और उनकी अनुमति के बिना स्थानीय टेलीविजन चैनलों पर उसमें मौजूद वीडियो प्रसारित किया। अश्लील क्लिप में महिला और एनएबी प्रमुख जावेद इकबाल को आपत्तिजनक स्थिति में देखा जा सकता है। महिला ने आरोप लगाया कि मुझे और मेरे पति को डेढ़ महीने तक कैद करके रखा गया।