July 3, 2022

Jagriti TV

न्यूज एवं एंटरटेनमेंट चैनल

No Parking में खड़े वाहन की तस्वीर खींचे और कमाएं 500 रूपये

अक्सर आपने देखा होगा कि गाड़ियां नो-पार्किंग जोन में खड़ी होती हैं और कई बार तो ऐसी गाड़ियों के चलते जाम तक लग जाता है, ऐसे मामलों में आसपास मौजूद लोग बेबस हो जाते हैं और कई लोग तो ऐसे होते हैं जो नो-पार्किंग जोन या बीच सड़क पर खड़ी गाड़ियों को लेकर एक्शन भी लेना चाहते हैं लेकिन मन मसोस कर रह जाते हैं। हालांकि अब केंद्र सरकार ऐसे लोगों को खास मौका देने जा रही है।

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि केंद्र सरकार जल्द एक ऐसा कानून लाने जा रही है जिससे बीच सड़क पर गाड़ी खड़ी करने की समस्या का समाधान हो सकता है। गडकरी का कहना है कि केंद्र सरकार जल्द एक कानून लाने जा रही है।

इस कानून के मुताबिक, जो भी शख्स अपनी गाड़ी को सड़क पर खड़ी करेगा और अगर कोई दूसरा शख्स मोबाइल से फोटो क्लिक करके उसे भेज देगा तो दूसरे शख्स को काफी फायदा होगा। मसलन अगर गाड़ी वाले का 1000 रुपए का फाइन होता है तो भेजने वाले को 500 रुपए का इनाम मिलेगा। गडकरी का मानना है कि इससे पार्किंग की समस्या दूर हो जाएगी। गडकरी ने कहा कि लोग अपना घर तो बड़ा बना लेते हैं लेकिन पार्किंग नहीं बनाते हैं।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने इस मामले में अपने घर का उदाहरण भी दिया। उन्होंने कहा कि उनके घर में तो जो रोटी बनाने के लिए आता है, उसके पास भी सेकेंड हैंड दो गाड़ियां हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह के हालात तो पहले अमेरिका-यूरोप में होते थे जब सफाई करने के लिए महिला आया करती थी और उसके पास एक गाड़ी होती थी तो हम लोग हैरान होकर देखा करते थे। लेकिन अब ये सब तो हमारे यहां भी हो रहा है।

उन्होंने आगे कहा कि भारत में तो ऐसे हालात हैं कि परिवार में अगर चार लोग हैं तो आपको छह गाड़ियां देखने को मिल जाएंगी। उन्होंने दिल्ली का उदाहरण देते हुए कहा कि दिल्ली वाले तो काफी नसीब वाले हैं क्योंकि हमने सड़कें तो उनकी गाड़ी की पार्किंग के लिए ही बनाई हुई है। यहां कोई पार्किंग नहीं बनाता है और लोग अपनी गाड़ी को सड़क पर ही खड़ी कर देते हैं।

गडकरी ने इसके अलावा अपने घर का भी उदाहरण देते हुए कहा कि कैसे वे पार्किंग को लेकर कितने गंभीर हैं। गडकरी ने कहा कि उन्होंने नागपुर के अपने घर में 12 गाड़ियों के लिए पार्किंग बनाई हुई है। गडकरी ने जोर देकर कहा कि वे कभी सड़कों पर गाड़ी खड़ी नहीं करते हैं।